Mask Fine

यूपी में बिना चेहरा ढके घर से बाहर निकलना भारी पड़ेगा। मुख्य सचिव ने ऐसे लोगों पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

अगर आप उत्तर प्रदेश में है और बगैर मास्क या गमछे से चेहरा ढके बगैर घूम रहे हैं तो आपकी अब खैर नहीं। दरअसल, मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने मंगलवार को बिना चेहरा ढके निकलने वालों से जुर्माना वसूलने के आदेश दे दिए हैं। जी हां, तिवारी ने वायरस के संक्रमण को देखते हुए उच्च उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक के बाद सभी जिलाधिकारी और मंडल आयुक्तों को पत्र भेजा है।

पंजाब में भी पेट्रोल और डीजल पर बड़ा वैट, अब इतने महंगे हुए तेल…

मुख्य सचिव द्वारा लिखे गए इस पत्र में बिना मास्क, रुमाल या गमछे से चेहरा ढके बगैर घर से बाहर निकल रहे या अन्य प्रदेशों से पैदल आ रहे लोगों को प्रवेश नहीं करने देने का आदेश दिया गया है। मुख्य सचिव का कहना है कि अगर कोई व्यक्ति किसी तरह के दूसरे जिले से आ जाता है तो उसे जिले में स्वास्थ्य जांच कराकर क्वारनटीन सेंटर में भेजा जाए।

मुख्य सचिव ने हर एक क्वारनटीन सेंटर आश्रय स्थल और कम्युनिटी किचन में स्वच्छता और सुरक्षा पुख्ता करने के लिए एक प्रभारी अधिकारी और जिला स्तर पर इसकी निगरानी के लिए नोडल अधिकारी की तैनाती करने के भी निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव का कहना है कि क्वारनटीन सेंटर या आश्रय स्थल पर महिलाओं और पुरुषों के रहने और शौचालय की व्यवस्था अलग-अलग की जाए।

शराब के शौकीनों को हरियाणा सरकार का तोहफा, आज से खुलेंगी दुकानें लेकिन….

इसके अलावा मुख्य सचिव ने नोडल अधिकारी के माध्यम से हर दिन सुबह 9 बजे तक निर्धारित प्रारूप पर अपर मुख्य सचिव राज्य विभाग या कंट्रोल रूम को सूचना देने और अन्य प्रदेशों से आ रहे प्रवासियों से विनम्र व्यवहार बरतने का भी आदेश दिया है।

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने ग्राम प्रधानों को यह भी आदेश देने के लिए कहा है कि गांव में अगर कोई भी व्यक्ति बाहर से आता है तो उसकी तत्काल सूचना जिला प्रशासन और सीएम हेल्पलाइन नंबर पर दी जाए। मुख्य सचिव ने यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि दवाओं की दुकान पर दवा तय मूल्य पर ही जनता को दी जाए और जो दुकानदार दवा की बिक्री निश्चित मूल्य से ज्यादा करते हैं तो उन पर कार्यवाही भी हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here