Fair & Lovely लगाने वालों के लिए बड़ी खबर है। दरअसल अब क्रीम में नहीं रहेगा फेयर। यूनिलिवर कंपनी बदलेगी नाम।

Fair & Lovely (फेयर ऐंड लवली) क्रीम का इस्तेमाल काफी समय से भारत में होता आ रहा है केवल भारत ही नहीं बल्कि कई और देशों में भी इस स्क्रीन की धाक है लेकिन अब नस्ली मानसिकता के खिलाफ शक्तिशाली देश अमेरिका समेत दुनिया भर में चल रहे आंदोलनों के बीच Unilever company (यूनिलिवर कंपनी) अपने इस उत्पाद ‘फेयर ऐंड लवली’ का नाम बदलने जा रही है। यहां आपको बता दें कि केवल भारत में सालाना 50 करोड़ से ज्यादा का कारोबार यूनिलिवर कंपनी सिर्फ फेयर ऐंड लवली ब्रैंड से करती है।

सवालों के घेरे में हैं कंपनी

दुनिया भर में अश्वेतों को लेकर जारी भेदभाव रोकने की मुहिम के बीच गोरे रंग को बढ़ावा देने वाली क्रीम भी सवाल के घेरे में हैं। इसे लेकर यूनिलिवर कंपनी का कहना है कि वह अपने ब्रैंड की पैकेंजिंग से फेयर, व्हाइटनिंग और लाइटनिंग जैसे शब्दों को हटाएगी साथ ही प्रचार सामग्री और विज्ञापनों में हर रंग की महिलाओं को स्थान देगी।

गलती को सुधरना चाहते हैं- सनी जैन

यूनिलिवर ब्यूटी ऐंड पर्सनल केयर डिवीजन के अध्यक्ष सनी जैन ने कहा, “हम इस बात को समझते हैं कि फेयर, व्हाइट और लाइट जैसे शब्द सुंदरता की एकपक्षीय परिभाषा को जाहिर करते हैं जोकि सही नहीं है. हम इसे सुधारना चाहते हैं.”

आपको बता दें कि भारत के साथ ही यह क्रीम इंडोनेशिया, बांग्लादेश, पाकिस्तान, थाईलैंड और एशिया के कई देशों में बिकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here