luck

आज हम आपको अपनी इस खबर में कुछ ऐसे बैड लक के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे आप अनजाने में खुद से जोड़ लेते हैं। अनजाने में किए गए कुछ काम आपके लिए मुसीबत खड़ी कर देते हैं। तो चलिए जानते हैं क्या है वो काम…

सनातन धर्म में हर चीज के नियम बनाए गए हैं जिनका अनुसरण करके घर में सुख शांति और समृद्धि लाई जा सकती है। शास्त्रों में कुछ ऐसे कार्यों का भी उल्लेख किया गया है जिनको अगर शाम को किया जाए तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा पैदा होने लगती है और कोई ना कोई समस्या घर पर बनी रहती है तो आज हम आपको उन चीजों के बारे में बताएंगे जिन्हें अगर शाम को किया जाए तो घर में बैड लक बढ़ने लगते हैं।

सफलता, सुख समृद्धि और धन दौलत चाहिए तो इन बातों का…

  • संध्या के समय घर के मुख्य दरवाजे को बंद नहीं करना चाहिए। ऐसा माना जाता है लक्ष्मी का आगमन संध्या के समय होता है इसलिए कहा जाता है कि पहली शाम को दरवाजा थोड़ा खोलकर रखना चाहिए। इससे घर में माँ लक्ष्मी का वास होता है और बरकत होती है।
  • घर के माहौल को शाम के समय हंसी खुशी वाला रखना चाहिए। रोना या कलह करने से घर में अपशगुन बढ़ता है इससे अलक्ष्मी का आगमन होता है और लोग बीमार होते हैं। मानसिक चिंताएं बढ़ती है। परेशानी और धन हानि भी होती है।
  • शास्त्रों में शाम के समय तुलसी माता को छूना गलत माना जाता है। कहा जाता है शाम के समय तुलसी जी लीला करने जाती है इसलिए शाम के समय तुलसी को नहीं छूना चाहिए। शाम के समय तुलसी जी की दीपक से आरती करनी चाहिए। ऐसा करने से घर में कभी धन का संकट नहीं मंडराता।
  • अक्सर लोग पूजा करने के दौरान शंख बजाते हैं। सूर्यास्त होने के बाद देवी-देवता आराम करने चले जाते हैं इसलिए कभी भी इस समय शंख नहीं बजाना चाहिए। सूर्यास्त के समय पूजा कर रहे हैं तो ध्यान रखें कि शंख न बजाए। माना जाता है शंख की ध्वनि से आराम में बाधा आती है शाम के समय शंख बजाने से लाभ कम और धन की हानि ज्यादा होती है।
  • शाम के समय ना तो किसी को रुपया पैसा उधार देना चाहिए और ना ही किसी से लेना चाहिए। ऐसा कहते हैं घर में ऐसा करने से घर में बरकत नहीं होती। धन के लेनदेन के लिए सुबह का समय अच्छा रहता है। शाम के समय धन का लेनदेन करना लक्ष्मी को विदा करने के बराबर माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here