Kedarnath Temple

उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत केदारनाथ धाम को लेकर जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि किस दिन से भक्त बाबा के दर्शन कर पाएंगे।

जल्द ही भक्त केदारनाथ धाम जाकर भगवान भोले के दर्शन कर सकेंगे। बता दें, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक टीवी चैनल को दिए एक इंटरव्यू में कहा की राज्य के 10 जिले जो ग्रीन जोन में है उन्हें 4 मई से पूरी तरह खोल दिया जाएगा और यह 10 जिलों के लोग केदारनाथ धाम जाकर भगवान शिव की आराधना कर सकेंगे। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने यह भरोसा दिलाया कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से ध्यान रखा जाएगा।

लॉकडाउन: रेलवे चला रहा श्रमिक स्पेशल ट्रेन, जानें कितना लगेगा किराया

केंद्र सरकार की सूची के अनुसार, उत्तराखंड के कुल 13 में से 10 जिले ग्रीन जोन में हैं। दो जिले को ऑरेंज जोन में रखा गया हैं और सिर्फ एक ही जिला रेड जोन में है। इसी को ध्यान में रखते हुए सीएम रावत ने कहा कि जब 4 मई से लॉक डाउन का तीसरा चरण शुरू होगा तो 10 जिलों को पूरी तरह से खोल दिया जाएगा।

‘हम 2013 की तबाही से उबरे, कोरोना से भी उबरेंगे’

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चार धाम की यात्रा को लेकर कहा, “हम चाहते हैं कि लोग इन धार्मिक स्थलों की यात्रा करें। हम यह देखकर फैसले लेंगे कि चीजें किस तरह से बेहतर हो रही हैं। हम यही कामना करेंगे कि धार्मिक स्थल सुरक्षित रहें और लोगों के मन में कोई डर ना हो। राज्य ने 2013 में तबाही देखी है और उससे उबर चुका है। हम कोरोना की महामारी से भी उबरेंगे।”

10 जिले खोले जाने से होगी फायदा

बता दें, इससे पहले केदारनाथ धाम के कपाट 29 अप्रैल को विधि-विधान से पूजा-अर्चना करने के बाद खोल दिए गए थे। 15 मई को बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने के साथ ही चारों धाम के कपाट खुल जाएंगे। वहीं 10 जिलों को खोले जाने के बाद भक्त आसानी से बाबा भोले के दर्शन कर पाएंगे साथ ही ऐसे लोग जो लॉक डाउन के कारण घर बैठे हैं, वह भी रोजगार पर जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here