suresh-raina

कोरोना के बढ़ते कहर के बीच सुरेश रैना का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि इंसान की ज़िंदगी से जरूरी कुछ नहीं।

हॉकी हो, क्रिकेट हो या फिर फुटबॉल, टेनिस कोरोना का असर हर खेल पर पड़ रहा है। इस वायरस के कहर के आगे दुनिया भर के खेल टूर्नामेंटों को रद्द कर दिया गया है। भारत की सबसे महंगी क्रिकेट लीग यानी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) पर भी इस वायरस का असर पड़ा है जिसके कारण अब इसे रद्द कर दिया गया है।

बता दें, 29 मार्च से शुरू होने वाले आईपीएल को 15 अप्रैल तक के लिए टाला गया है। लेकिन जिस तरह से भारत में कोरोना का कहर बरस रहा है उसे देखकर मानो यह लगता है कि आईपीएल 15 से भी शुरू नहीं होगा। वहीं इस पर अब चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज सुरेश रैना का बयान सामने आया है। रैना का कहना है आईपीएल इंतजार कर सकता है लेकिन लोगों की जिंदगी नहीं। रैना ने यह साफ कर दिया है कि आईपीएल का इंतजार करने में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं है क्योंकि यहां पर अभी लोगों की जिंदगी का सवाल है। इससे ज्यादा कोई जरूरी नहीं है।

आपको बता दें, कोरोना वायरस से लड़ाई में सुरेश रैना ने 52 लाख रुपये दान किए हैं। इसके साथ उन्होंने लोगों से पीएम मोदी द्वारा जारी लॉकडाउन को फॉलो करने की अपील भी है। रैना का कहना है, ” हमें सरकार की बातों का पालन करना चाहिए और लॉकडाउन को मानना चाहिए। जब हालात पहले जैसे सामान्य हो जाएंगे तो हम आईपीएल के बारे में दोबारा सोचेंगे”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here