Solar Eclipse 2020

रविवार को साल का पहला Solar Eclipse सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है। इस ग्रहण से पहले लग रहे सूतक में आपको कुछ सावधानियां बरतने की जरुरत है।

21 जून यानी रविवार को साल का पहला सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है। रविवार को लगने जा रहा यह ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट से शुरू होकर दोपहर 3 बजकर 4 तक रहने वाला है। ज्योतिर्विदों के अनुसार ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले यानी 20 जून को रात करीब 9 बजकर 25 मिनट से लगेगा। ग्रहण के दौरान लगने वाले सूतक काल काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। हालांकि इस दौरान कई कामों को वर्जित माना जाता है।

21 जून 2020 राशिफल: आज इस राशि के लोगों की बिगड़ सकती है सेहत

तो चलिए बताते हैं आपको कौन से हैं वो काम

  1. ग्रहण के दौरान किसी भी तरह का कोई खाद्य पदार्थ का सेवन नहीं करना चाहिए। ग्रहण का यह नियम बच्चों, बीमार और बुजुर्गों पर लागू नहीं होता।
  2. ग्रहण काल में लगने वाले सूतक के दौरान किसी भी तरह का कोई नया काम नहीं करना चाहिए। मकान निर्माण, वाहन खरीदने, शादी विवाह की तैयारियां भी ऐसे में नहीं करनी चाहिए।
  3. सूतक काल लगने के बाद किसी भी तरह की नुकीली चीजों का इस्तेमाल अशुभ माना जाता है। सूतक के दौरान काटा, सुई जैसी धारधार और नुकीली चीजों का इस्तेमाल ना करें।
  4. सूतक लगने के बाद मंदिर के कपाट बंद कर दिए जाते हैं। ऐसे में पूजा पाठ नहीं करनी चाहिए। ऐसे में भगवान की मूर्तियों को छूना भी नहीं चाहिए।
  5. सूतक काल के लगने के बाद प्रकृति ज्यादा संवेदनशील हो जाती है इसी कारण इस दौरान पेड़ पौधों और पत्तों को तोड़ना नहीं चाहिए। हालांकि तुलसी के पत्तों को पहले ही तोड़ कर रख लें और पानी में भीगने दें। सूतक लगने के बाद यदि किसी को खाना दें तो भी उसमें तुलसी का पत्ता जरूर डालें।
  6. सूतक के दौरान दातुन करना, नाखून काटना या फिर बालों पर करने का करना अशुभ माना जाता है इसलिए ग्रहण के दौरान ऐसा कोई भी काम ना करें।
  7. सूतक लगने के दौरान आपको भगवान का ध्यान करना चाहिए। इससे नकारात्मक प्रभाव आप पर नहीं पड़ेगा। इस दौरान धार्मिक पुस्तकों का भी अध्ययन कर सकते हैं।
  8. गर्भवती महिलाओं को ग्रहण की घटनाओं को देखने से बचने की जरूरत है। हो सके तो गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। अगर गर्भवती महिलाएं ग्रहण देखती है तो गर्भ में पल रहे बच्चे की शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है।
  9. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ग्रहण का सूतक लगने के बाद किसी गरीब, असहाय व्यक्ति का अपमान करने से बचना चाहिए। ऐसा करने से आपको पाप लग सकता है।
  10. ग्रहण काल का सूतक लगने के बाद गर्भवती महिलाएं ग्रहण खत्म होने तक धातु से बनी हुई चीजों को ना पहने और न ही उनका इस्तेमाल करें।
  11. गर्भवती महिलाओं को इस दौरान खाने में छोंक लगाने, तड़का लगाने से भी बचना चाहिए। जितना हो सके खाने को साधारण रखें, उतना आपके लिए बेहतर होगा।
  12. सूतक काल के दौरान मांस, मछली, शराब, सिगरेट का सेवन नहीं करना चाहिए। सूतक लगने के बाद इन सबका परहेज करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here