laxmi mata

शास्त्रों में शुक्रवार के दिन पांच काम को शुभ बताया गया है। तो चलिए आपको बताते हैं क्या है वह 5 काम

वैसे तो शास्त्रों में हर दिन किसी देवी देवता का माना जाता है। जैसे सोमवार को भगवान शिव का, मंगलवार को राम भक्त हनुमान, ठीक उसी प्रकार शुक्रवार को देवी लक्ष्मी का दिन माना जाता है। इस दिन मां के भक्त वैभव लक्ष्मी का उपवास और पूजा पाठ करते हैं। ऐसा माना जाता है जिन लोगों के ऊपर मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है उनके जीवन में सभी दुखों का निवारण होता है और उन्हें धन की कभी कमी नहीं होती इसके साथ ही मां का आशीर्वाद हमेशा अपने भक्तों के ऊपर बना रहता है।

शास्त्रों की माने तो अगर आप महालक्ष्मी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो शुक्रवार की रात यह 5 काम जरूर करनी चाहिए। जिससे महालक्ष्मी की कृपा आपके ऊपर बनी रहे। तो चलिए बताते हैं आपको कौन से हैं ये 5 उपाय।

क्या आप इस दिन कटवाते हैं अपने बाल और नाखून?, तो…

भगवान विष्णु का आशीर्वाद

शास्त्रों के मुताबिक शुक्रवार की रात मां लक्ष्मी के साथ ही भगवान विष्णु की भी पूजा अर्चना की जानी चाहिए। आप श्री यंत्र और अष्टलक्ष्मी की तस्वीर को स्थापित कर सकते हैं। इसके बाद कपूर से दोनों देवी देवताओं की आरती करें। आरती के बाद पूरे घर में कपूर ले जाएं ताकि घर की नकारात्मकता खत्म हो जाएं। इसके बाद कपूर को तुलसी के पास रख दें। ऐसा करने से मां लक्ष्मी के साथ भगवान विष्णु का भी आपके ऊपर आशीर्वाद बना रहेगा।

नहीं होगी धन संबंधित समस्या

शुक्रवार की रात व्यक्ति को अपने घर पर खीर जरूर बनानी चाहिए और अपने परिवार के साथ ही इसका सेवन करना चाहिए। यह भी ध्यान रखें अगर आपके आस पास कोई कुंवारी लड़की है तो सबसे पहले खीर उसको खिलाएं। इससे बहुत जल्द आपको शुभ फल मिलेगा। ऐसा करने से घर की आर्थिक स्थिति सही हो जाएगी और धन संबंधी समस्या भी दूर होगी।

पाठ आपको दिलाएगा वैभव

शुक्रवार की रात कनकधारा स्त्रोत या लक्ष्मी स्रोत का श्रद्धा पूर्वक पाठ करना काफी फायदेमंद माना जाता है। इसका पाठ करने पर कहा जाता है कि सुख और समृद्धि की व्यक्ति को प्राप्ति होती है साथ ही नौकरी और व्यवसाय से जुड़ी परेशानियां भी दूर होती है। विष्णु पुराण में लक्ष्मी स्रोत के बारे में बताया गया है। एक बार देवताओं का राज वैभव छूट गया था। तब यह पाठ करने से उनको खोया हुआ राजपाठ लौट कर आया था। वहीं, कनकधारा स्त्रोत के बारे में यह कहा जाता है कि शंकराचार्य ने इसका पाठ करके धन की वर्षा कराई थी इसलिए यह पाठ काफी मंगलदाई माना जाता है।

दूर होती हैं जीवन में सभी बाधाएं

शुक्रवार की रात आसमान के नीचे चंद्रमा और पितरों का ध्यान करना चाहिए। उनको अपने जीवन में उठ रही परेशानियों के बारे में बताना चाहिए। ऐसा करने से उनका आशीर्वाद आप पर हमेशा बना रहेगा। पित्र दोष खत्म हो जाता है और जीवन की सभी परेशानियां दूर होकर मानसिक बल भी मिलता है।

Chanakya Niti: इस तरह के चार दोस्त मरने के बाद भी…

घर में सकारात्मक ऊर्जा

आमतौर पर ऐसा कहा जाता है रात के समय खुशबू नहीं लगाना चाहिए लेकिन शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी और शुक्र ग्रह से जुड़ा होता है। शुक्र ग्रह को श्रृंगार पर्याय माना जाता है इसलिए रात को सुगंध यानी परफ्यूम लगाएं। क्योरा और गुलाब की सुगंध आपके लिए फायदेमंद है साथ ही आप अपने तकिए के नीचे भी सुगंधित पदार्थ को रख सकते हैं। ऐसा कर आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा आती है और परिवार भी पर भी इसका असर पड़ता है। अगर आप तकिए के नीचे सुगंधित पदार्थ नहीं रख सकते तो आप अरोमा मोमबत्ती या फिर खुशबू वाली मोमबत्ती घर पर जला सकते हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here