कोरोना वायरस से वर्तमान की स्तिथि को देखते हुए दिल्ली के सभी स्कूलों को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है।

शुक्रवार को दिल्ली के सभी स्कूलों को दोबारा खोलने मामले पर उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अधिकारियों के साथ उच्च स्तर की बैठक की। इस बैठक में लॉकडाउन के दौरान अलग-अलग माध्यमों से शिक्षा क्रम को जारी रखने से जुड़े अनुभवों पर चर्चा भी हुई। इसके अलावा बैठक में अलग-अलग कक्षाओं के अनुरूप अलग-अलग विशिष्ट योजनाएं बनाने संबंधी सुझावों पर भी विचार किया गया साथ ही इस बात पर सहमति बनी है कोरोना वायरस से वर्तमान की स्थिति को देखते हुए 31 जुलाई तक सभी स्कूल बंद रहेंगे।

मनीष सिसोदिया ने निशंक को लिखा था पत्र

बीते दिनों केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पत्र लिखकर स्कूलों की नई भूमिका पर विचार करने का अनुरोध किया था। सिसोदिया ने लिखा था, “हमें इस वक्त ये तय करना है कि हम खुद अपने देश और समाज की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए अपने स्कूलों का पुनर्निर्माण करेंगे या फिर इंतजार करेंगे कि कोई अन्य देश कुछ कर ले, उसके बाद हम उसे अपने यहां कॉपी पेस्ट करें”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here