Maharashtra

देश में जारी कोरोना की मार के बीच सभी राज्य लोगों के कम से कम इस वायरस की चपेट में आने के लिए पुरजोर कोशिश कर रहीं हैं। इसी क्रम में महाराष्ट्र सरकार ने कदम बढ़ाया है।

देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में कोरोना की मार थमने का नाम नहीं ले रही। देश में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में तो इस वायरस के मामले लगातार बढ़ रहें हैं। राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने लॉक डाउन को 31 मई तक बढ़ाने का फैसला लिया है।

कोरोना वायरस को लेकर WHO की चेतावनी, कहा- कभी खत्म…

बता दें, महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में लॉकडाउन-4 का ऐलान कर दिया है। आज यानी 17 मई को लॉकडाउन 3.0 की मियाद खत्म हो रही है। वहीं लॉक डाउन 4.0 को लेकर महाराष्ट्र के राहत और पुनर्वास विभाग ने पत्र जारी किया है।

  • कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र

आपको बता दें कि इस वायरस से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। महाराष्ट्र में इस वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है पिछले दिनों यहां इस वायरस के लगभग 1500 मामले सामने आए हैं। राज्य में अभी इस वायरस के 30 हजार से ज्यादा मामले दर्ज हो चुके हैं जबकि इनमें से सात हजार से ज्यादा लोग इलाज के बाद अपने घर जा चुके हैं। वहीं एक हजार से ज्यादा लोग इस वायरस के कारण अपनी जान भी गंवा चुके हैं।

  • सख्ती से लागू होंगे लॉकडाउन के नियम

भारत सरकार की ओर से जारी पत्र में यह बताया गया है कि कोरोना वायरस के राज्य में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लॉक डाउन बढ़ाना जरूरी है। इसलिए राज्य सरकार ने इस लॉक डाउन को 31 मई की आधी रात तक के लिए बढ़ाने का फैसला किया है। राज्य सरकार के अनुसार, महाराष्ट्र सरकार के सभी विभाग लॉक डाउन को प्रभावी और सख्ती से लागू कराने के लिए सभी निर्देशों का पालन करेंगे।

WHO ने खान-पान को लेकर जारी की गाइडलाइन

राज्य सरकार की तरफ से यह कहा गया है कि कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए लगाए गए सभी निर्देश अगले आदेश तक प्रभावी होंगे नॉक डाउन में पीलिया हटाने की जानकारी उचित समय पर दे दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here