lockdown3

आज यानी सोमवार से लॉक डाउन 3.0 की शुरुआत हो रही है। ऐसे में किस राज्य में क्या चीजें खुलेगी और क्या रहेगा बंद, इस खबर में जानिए।

देश में कोरोना वायरस को रोकने के लिए लगाए गए लॉक डाउन के तीसरे चरण की शुरुआत हो रही है। आज यानी 4 मई से लॉक डाउन 3.0 की शुरुआत हो रही है जो 17 मई तक रहेगा हालांकि इस लॉक डाउन 3.0 को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से कई रियायतें भी दी गई हैं। साथ ही कई सेवाओं पर पाबंदी पहले की तरह जारी हुई। इस लॉक डाउन 3.0 को लेकर राज्य सरकारें अपनी जनता को राहत दे रही हैं।

दिल्ली

दिल्ली में 4 मई से सभी सरकारी दफ्तर खुलेंगे। जो जरूरी सेवाओं से जुड़े हैं वहां 100 प्रतिशत लोग काम कर सकेंगे। गैर जरूरी सेवाओं में डिप्टी सेक्रेटरी और 33 फीसदी स्टाफ आएगा। निजी संस्थानों में 33 प्रतिशत स्टाफ आएगा। स्टेशनरी समेत सभी तरह की स्टैंड-अलोन शॉप खुलेंगी। शराब की दुकानें खुलेंगी। जरूरी सामान बनाने वाली कंपनियां भी आज से खुलेंगी इनकी सप्लाई चेन भी खुलेगी। ई-कॉमर्स में जरूरी सेवाएं रहेंगी आईटी हार्डवेयर की दुकानें भी खुलेंगी। शादी समारोह में 50 लोगों को शामिल होने की जरूरत है। किसी की मौत में 20 लोगों को एकत्र होने की इजाजत है

लॉक डाउन 3.0: जानिए क्या है रेड, ऑरेंज, ग्रीन जोन और इसकी लिस्ट

जिम, स्पोर्ट्स, स्कूल, मॉल, सोशल, पॉलिटिकल, होटल, रेस्टोरेंट, सांस्कृतिक जमावड़े पर अभी पाबंदी रहेगी। सैलून भी बंद रहेंगे। शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक बाहर निकलने की परमिशन नहीं होगी। पब्लिक ट्रैवल सिस्टम मेट्रो, बस, रेल, एयर, रिक्शा, ऑटो रिक्शा बंद रहेंगे। गर्भवती महिला, 65 साल से ऊपर बुजुर्ग, कोई अन्य बीमारी, 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर में रहना होगा। मॉल और बाजार, कनॉट प्लेस बंद रहेंगे, लेकिन जरूरी सामान की दुकान खुल सकेंगी।

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश में ग्रीन जोन वाले जिलों में बसे चलेंगी। 50 फीसदी सीटों के साथ इनका संचालन किया जाएगा। जो जिले की सीमाओं में होगा। टैक्सी शहर के अंदर से 2 सवारियों को बिठाकर चलाई जा सकती है। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने एहतियातन बरतने के साथ औद्योगिक गतिविधियों को शुरू करने के निर्देश दिए हैं। शहरी क्षेत्रों में उत्पादन इकाइयों को और औद्योगिक प्रतिष्ठानों को शर्तों के साथ खोलने की इजाजत दी गई है। सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक शराब की दुकान खुलेंगी। जरूरी वस्तुओं के संबंध में कॉमर्स गतिविधियों को इजाजत दी गई है। गैर जरूरी गतिविधियों का आवागमन सुबह 7 से शाम 7 बजे तक नहीं होगा।

बीच सड़क पर पानी के साथ हाथी के बच्चे की मस्ती, वीडियो वायरल

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में दुकानें खोलने के निर्देश मिल गए हैं। कंटेनमेंट और हॉटस्पॉट जोन में दुकान नहीं खुलेगी। एमएमआर और पीएमआर क्षेत्रों में दुकानों को शर्तों के साथ खोला जाएगा। स्टैंड अलोन शॉप को ही खुलने की इजाजत दी गई है। अभी मॉल और प्लाजा में दुकानों को खुलने की इजाजत नहीं मिली है। गैरजरूरी कमोडिटी की 5 दुकानें हर लैन में खुलेगी। जरूरी दुकानों के लिए कोई संख्या निर्धारित नहीं की गई है। शराब की दुकानें खुली रहेंगी। केवल उन्हीं दुकानों को खोलने की इजाजत दी गई है जो किसी मॉल या रेस्टोरेंट का हिस्सा नहीं है। सलून पर भी पाबंदी रहेगी।

सोमवार से जनधन खाते में डाली जाएगी दूसरी किस्त, ऐसे निकलना होगा पैसा

मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में हवाई यात्रा, अंतरराष्ट्रीय बस सेवाएं, रेल सेवाएं, एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने का आवागमन, स्कूल, कॉलेज, शॉपिंग मॉल, सिनेमा हॉल, जिम, स्पोर्ट्स कंपलेक्स, थिएटर, बार, मनोरंजन पार्क, ऑडिटोरियम, समुदायिक भवन, कोचिंग और प्रशिक्षण संस्थान सभी बंद रहेंगे। स्वास्थ्य, पुलिस, शासकीय अधिकारी, स्वास्थ्य कर्मी, लॉक डाउन में फंसे लोगों के लिए जरूरी सेवाओं को छोड़कर दूसरे सभी सेवाएं बंद रहेंगी। इसी तरह सामाजिक, राजनीतिक, साहित्य, संस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम, खेल कूद संबंधी अन्य गतिविधियां सभी बंद रहेंगी। इसके अलावा धार्मिक स्थान पूजा स्थल बंद रहेंगे। सभी 60 वर्ष की आयु से ज्यादा वाले नागरिक, दिव्यांग और 10 साल से कम उम्र के बच्चे, गर्भवती महिलाएं घर पर ही रहेंगे। केवल जरूरी कार्य और स्वास्थ्य से जुड़ी कारणों की वजह से यह घर से बाहर आ सकते हैं। इसी तरह सुबह 7 से शाम 7 बजे तक आवश्यक सेवाओं को छोड़कर लोगों का आना जाना बंद रहेगा।

लॉकडाउन: रेलवे चला रहा श्रमिक स्पेशल ट्रेन, जानें कितना लगेगा किराया

रेड जोन में कंटेनमेंट एरिया के बाहर जारी गतिविधियों में चार पहिया वाहन में तीन लोग (एक ड्राइवर, दो यात्री) को इजाजत है। इसके साथ ही विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र, निर्यात इकाइयां, औद्योगिक क्षेत्र (एक्सेस कंट्रोल के साथ), अत्यावश्यक वस्तुओं की सेवा और निर्माता, ऐसे उद्योग जिनमें उत्पादन की निरंतरता आवश्यक है, सूचना प्रौद्योगिकी, हार्डवेयर निर्माण इकाइयां, जूट उद्योग, पैकेजिंग इकाइयां, नगरीय क्षेत्रों में निर्माण कार्य, जिनमें केवल स्थानीय श्रमिक शामिल हो, को इजाजत दी गई है। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में सभी निर्माण गतिविधियां, ग्रामीण क्षेत्रों में सभी प्रकार की दुकानें, नवकरणीय ऊर्जा परियोजनाएं, आवश्यक वस्तुओं का विक्रय करने वाली दुकानें, आवश्यक सेवाओं से जुड़ी ई-कॉमर्स की गतिविधियां, निजी कार्यालय (33 प्रतिशत अमले के साथ) और सरकारी कार्यालय (अधिकारी 100 प्रतिशत एवं कर्मचारी 33 प्रतिशत अमले के साथ) संचालित हो सकेंगे।

लॉकडाउन 3.0 में हो सकेंगी शादियां, लेकिन करना होगा ये काम

वहीं ऑरेंज जोन में कंटेनमेंट एरिया के बाहर, जिले के अंदर और जिले के बाहर बसों को नहीं चलाया जाएगा। मनरेगा के कार्य और सभी प्रकार के कार्यों को अनुमति है। वहीं, वह गतिविधियां जो सभी जोनों में प्रतिबंधित है उनको छोड़कर ग्रीन जोन में सभी प्रकार की गतिविधियां की जा सकती है। जिसके अंतगर्त कृषि से जुड़ी सभी कार्य, सभी प्रकार की दुकानों का खुलना, ऑटो सेवा, नगर बसों की सेवाएं सभी प्रकार के ग्रामीण क्षेत्रों में उद्योग, समस्त निर्माण कार्य, गाड़ी के शोरूम उपकरणों की मरम्मत वाहन सर्विसिंग मनरेगा का कार्य निर्यात इकाइयां औद्योगिक क्षेत्र विशेष आर्थिक क्षेत्र (एक्सेस कंट्रोल के साथ), अत्यावश्यक वस्तु सेवाओं के निर्माता उद्योग और ऐसे उद्योग जिनमें उत्पादन की निरंतरता आवश्यक हो, सूचना प्रौद्योगिकी, हार्डवेयर निर्माण इकाइयों को इजाजत होगी।

ग्रीन जोन में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ बसों का संचालन किया जाएगा। बस डिपो भी 50% क्षमता के साथ चलेंगे। ग्रीन जोन में शादी समारोह में जिला कलेक्टर अधिकतम 50 लोगों को शामिल होने की इजाजत दे सकेगा। रेड और ऑरेंज ऑन के बाहरी हिस्सों में भी स्थानीय प्रशासन वहां की स्थिति को देखते हुए सीमित संख्या में व्यक्तियों के शामिल होने की इजाजत देगा। अंतिम संस्कार में 20 लोगों को ही शामिल होने की इजाजत है।

बिहार

बिहार सरकार ने कोरोना के खतरे को देखते हुए फैसला लिया है कि प्रदेश में केवल 2 जोन होंगे (रेड और ऑरेंज)। सरकार ने निर्णय लिया है कि अब इन्हीं दोनों जोनों के आधार पर 17 मई तक चलने वाले लॉक डाउन में लोगों को छूट दी जाएगी। सरकार ने कहा प्रदेश में ग्रीन जोन नहीं होगा। राज्य सरकार का कहना है कि 13 जिले जो ग्रीन जोन थे उन्हें भी ऑरेंज ऑन माना जाएगा। रेड जोन में आने वाले 5 जिलों को लेकर बिहार सरकार ने कहा है कि वहां जिलाधिकारी हालात देखते हुए किन चीजों में छूट देनी जरूरी है इसका फैसला लेगा। वहीं भारत सरकार के मानदंडों के हिसाब से ऑरेंज जोन में आने वाले सभी जिलों में आज यानि सोमवार से सभी तरह के निर्माण कार्य, सभी प्रकार की वस्तुओं के लिए ई कॉमर्स, सैलून, स्पा को खोलने की परमिशन मिल गई है।
इन सभी जिलों में सभी प्रकार के उद्योगों को चलाने की भी परमिशन मिल गई है।

जम्मू कश्मीर

जम्मू कश्मीर में कंटेनमेंट जोन को छोड़कर औद्योगिक इंडस्ट्री, दुकानों और कंस्ट्रक्शन के कार्य को अनुमति दी गई है। रेड जोन में केवल जरूरी वस्तुओं के लिए ई कॉमर्स को होम डिलीवरी देने की इजाजत है। ऑरेंज जोन जिलों में टैक्सी और कैब एक ड्राइवर और 2 सवारी के साथ चल सकती है। ऑरेंज जोन में 33 फीसदी स्टाफ के साथ प्राइवेट ऑफिस काम कर सकते हैं। इसके अलावा 50 फीसदी यात्रियों के साथ एक बस जिले में चल सकेंगी।

महाराष्ट्र में जल्द होंगे MLC Election, इस तरह किया जाता है सदस्य का चुनाव

इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा और मेडिकल सेवा के अलावा यातायात पर रोक रहेगी। शिक्षण संस्थान स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे। जिम, सिनेमा हॉल, मॉल बंद रहेंगे। शराब की दुकाने, बार, रेस्टोरेंट, सैलून बंद रहेंगे। किसी भी प्रकार का जमावड़ा नहीं लगेगा। धार्मिक जगह बंद रहेगी। गैर जरूरी सामानों के लिए सुबह 7 से शाम 7 बजे के बीच निकलने की इजाजत नहीं होगी।

आंध्र प्रदेश

आंध्र प्रदेश में सचिवालय में कर्मचारियों को काम करने की इजाजत होगी। सहायक सचिव के पद से ऊपर के सभी कर्मचारी नियमित रूप से नियमानुसार कार्यालय में उपस्थित रहेंगे। सहायक सचिव के पद से नीचे कर्मचारी प्रत्येक विभाग में 33 फ़ीसदी होंगे। इनमें हाई ब्लड प्रेशर, दिल, किडनी से जुड़े मरीजों और मधुमेह से जुड़े मरीजों को छूट होगी। गर्भवती महिलाओं को भी छूट होगी। आंध्र प्रदेश में शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई है। साथ ही शराब की कीमतों में 25 फीसदी का इजाफा भी किया गया।

ओडिशा

ओडिशा में सभी जोन में स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। इंटर स्टेट बस ट्रांसपोर्ट, सिनेमा हॉल, मॉल्स, जिम, स्पोर्ट्स कॉम्पलैक्स, बार बंद रहेंगे। कोई भी जमावड़ा वाला कार्यक्रम नहीं होगा। धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। चार पहिया वाहनों में दो लोगों को बैठने की अनुमति होगी। ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक गतिविधियों को अनुमति है। लेकिन शहरी क्षेत्रों में कुछ ही गतिविधियों को इजाजत दी गई है। शहरी क्षेत्रों में मॉल्स को छोड़कर दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई है। 33 फीसदी स्टाफ के साथ प्राइवेट ऑफिस खुल सकते हैं।

गोवा

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है कि 17 मई तक जारी लॉकडाउन के दौरान केंद्र सरकार के जरिए जारी की गई सभी गाइडलाउन के मुताबिक गोवा में काम होगा। सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक गैर-जरूरी सामानों की बिक्री करने वाली दुकानें खोली जा सकेंगी।

चंडीगढ़

सार्वजनिक स्थानों पर पान, गुटखा, शराब, तंबाकू के सेवन की जारत नहीं है। ऐसी चीजों की बिक्री करने वाली दुकानें एक से न्यूनतम 6 फ़ीसदी तक दूरी सुनिश्चित करेगी। एक दुकान पर एक बार में 5 से ज्यादा लोग मजबूत नहीं होंगे।

झारखंड

झारखंड में लोगों को किसी भी तरह की कोई रियायत नहीं दी जाएगी। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 2 हफ्ते तक ललॉक डाउन के सख्ती से पालन के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार की ओर से जारी लॉक डाउन में ढील झारखंड में नहीं लागू होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here