Hanuman Chalisa

क्या आप भी करते हैं हनुमान चालीसा का पाठ, अगर नहीं तो जान ले यह बातें। फिर हर मंगलवार करेंगे बजरंगबली का जाप।

रामभक्त हनुमान और हनुमान चालीसा दोनों की भारतीय संस्कृति में अवर्णीय आस्था है। पवन पुत्र हनुमान का नाम लेते ही शरीर के अंदर एक अद्भुत शक्ति का संचार होने लगता है। हनुमान चालीसा के पाठ में लगभग 10 मिनट का समय लगता है। आप में से कई ऐसे भक्त होंगे जो हनुमान चालीसा का हर मंगलवार पाठ करते होंगे।
ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं हनुमान चालीसा के वो खास लाभ जिसे जान लेंगे तो हर मंगलवार आप हनुमान चालीसा का पाठ करना नहीं भूलेंगे।

शुक्रवार की रात ये 5 काम करने से नहीं आएगी गरीबी

  • नकारात्मक ऊर्जा और बुरी शक्तियों को दूर भगाएं

पवन पुत्र हनुमान का नाम संकट मोचन इसीलिए पड़ा है क्योंकि हनुमान जी अत्यंत बलशाली थे और किसी से नहीं डरते थे। हनुमान जी के अंदर हर बुरी आत्माओं का नाश करके लोगों को मुक्ति दिलाने का साहस और बल था। जिन लोगों को रात में डर लगता है या फिर डरावने सपने आने की परेशानी है उन्हें रोज हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।

  • साढे़साती का प्रभाव करें कम

शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए हनुमान चालीसा सहायक है। इसे साढ़ेसाती का प्रभाव कम होता है। कहानी के मुताबिक, हनुमानजी ने शनिदेव की जान की रक्षा की थी और फिर शनिदेव ने प्रसन्न होकर यह कहा था कि वह आज के दिन किसी भी हनुमान भक्त का कोई नुकसान नहीं करेंगे।

  • पाप से दिलाएं।मुक्ति

इंसान कभी ना कभी अनजाने या फिर जानबूझकर गलतियां कर बैठता है लेकिन आप उस गलती की माफी हनुमान चालीसा पढ़कर मांग सकते हैं। रात के समय हनुमान चालीसा को 100 बार पढ़ने से आप सभी प्रकार के पाप से मुक्त हो सकते हैं।

हनुमान जयंती: आज भूलकर भी नहीं करें ये 10 काम

  • बाधा हटाएं

रात में जो भी इंसान हनुमान चालीसा का पाठ करेगा हनुमान जी स्वयं आकर उसकी रक्षा करेंगे। बचपन से ही हमें यह सिखाया जाता है कि अगर कभी मन अशांत हो या फिर किस चीज से डर लगे तो हनुमान चालीसा पढ़ो ऐसा करने से मन शांत होता है और डर भी नहीं लगता।

  • बुद्धि जागृत होती है

हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का काफी महत्व है चालीसा पढ़ने से शनि ग्रह और साढ़ेसाती का प्रभाव तो कम होता ही है साथ ही राम जी के परम भक्त हनुमान जी का पाठ करने से बल बुद्धि जागृत होती है। हनुमान चालीसा का पाठ करने से व्यक्ति अपनी शक्ति, भक्ति और कर्तव्यों का आकलन कर सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here