कोरोना वायरस के संकट में केरल की कंपनी ने ऐसा प्रयोग किया है जो काफी राहत देने वाला है। दरअसल कंपनी ने नारियल के जट्टे से ऐंटी-कोविड चटाई बनाई है।

इस वक्त पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का कहर बरप रहा है। ऐसे में कोरोना वायरस से बचने के लिए नए-नए तरीकों का इजात किया जा रहा है। इस बीच केरल सरकार की कंपनी ने एक ऐसा इनोवेटिव आइडिया ढूंढ निकाला है जिससे कोरोना वायरस से तो सुरक्षा मिलेगी साथ ही मंद अर्थव्यवस्था में भी राहत मिलेगी।

दरअसल, KSCC (केरल स्टेट क्वॉयर कॉर्पोरेशन) ने नारियल के जट्टे की चटाइयां (क्वॉयर मैट्स) का निर्माण किया है जिनमें सैनाइजेशन की सुविधा है। इस चटाई की खासियत ये है की ये चटाइयां जूते-चप्पलों के जरिए घरों में वायरस को आने से रोकने में सक्षम हैं। NCRMI (नैशनल क्वॉयर रिसर्च ऐंड मैनेजमेंट) और श्रीचित्रा तिरुनल इंस्टिट्यूट फॉर मेडिकल साइंस ऐंड टेक्नॉलजी ने इस खास नारियल की नई चटाई को विकसित किया है। इन्हें ऐंटी कोविड हेल्थ प्लस मैट्स नाम दिया गया है।

बता दें, पिछले डेढ़ महीने में दोनों ने मिलकर यह काम किया है। क्योंकि इन चटाइयों में सैनिटाइजिंग सॉल्युशंस हैं, ऐसे में इनपर जब जूते-चप्पल रगड़े जाते हैं तो ये वायरस वहीं रह जाता है। कोरोना अंदर नहीं जा पाता है। वहीं इनकी बिक्री के दौरान इन चटाइयों की बिक्री एक किट के साथ दिया जाएगा जिसमें ट्रे और सैनिटाइजर होंगे।

मांग घटने पर आया आइडिया

केरल के वित्त मंत्री थॉमस आइजक ने कहा, “कोविड-19 के कारण नारियल के जट्टे से बने उत्पादों की घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजारों में मांग बिल्कुल कम हो गई तो यह आइडिया सूझा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here