Rangoli Chandel

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है।

बॉलीवुड की पंगा क्वीन कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। बता दें, रंगोली चंदेल ने कुछ दिनों पहले ही अपने ट्विटर अकाउंट पर यह बताया था कि उन्हें अकाउंट सस्पेंड करने की चेतावनी मिल रही है। वहीं, अब गुरुवार को ट्वीटर इंडिया द्वारा उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है। अकॉउंट सस्पेंड करने का बड़ा कारण रंगोली चंदेल के अभद्र ट्वीट हैं जो उन्होंने एक समुदाय और ऋतिक रोशन की एक्स वाइफ सुजैन की बहन फराह खान अली को धमकाने के लिए किए थे।

आपको बता दें, मुरादाबाद में हुए पथराव को लेकर रंगोली चंदेल ने ट्वीट किए थे जिसके बाद उनकी बात का जवाब देते हुए फराह खान अली ने रंगोली को आड़े हाथ लिया था। असल में रंगोली चंदेल ने सुजैन खान की बहन और संजय खान की बेटी फराह खान अली को लेकर एक भद्दा ट्वीट किया था। जिसके कारण ही ट्विटर इंडिया ने उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया है।

मुंबई पुलिस से फराह खान ने की शि‍कायत

वहीं रंगोली चंदेल के ट्वीट के बाद फराह खान अली ने मुंबई पुलिस और ट्विटर इंडिया को शिकायत की थी।
उन्होंने लिखा, “मुंबई पुलिस इस महिला को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए क्योंकि यह एक धर्म के लोगों को मारने के लिए उकसा रही है. ट्विटर को भी इसका अकाउंट ब्लॉक कर देना चाहिए क्योंकि यह महिला समाज में धार्मिक जहर घोल रही है.”

फराह खान अली की इस शिकायती ट्वीट के बाद रंगोली चंदेल ने पलटवार करते हुए लिखा, “तू मझे अरेस्ट कराएगी? तेरे पति को दुबई में पकड़ा था ड्रग्स के साथ, तू मुझे जेल भिजवाएगी? सारी फैमिली ड्रग एडिक्ट्स की है… जेल तो तुम्हें होगी अगर सही वीकेंड पर पुलिस रेड करे… बस कुछ वक्त और है… तुम चिंता मत करो…”

रंगोली चंदेल के इस ट्वीट के बाद ही ट्विटर इंडिया ने उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया। खुद फराह खान अली ने सोशल मीडिया के माध्यम से इस बात की जानकारी भी दी है। फराह ने ट्वीट में लिखा है, “ट्विटर का धन्यवाद कि उन्होंने तुरंत एक्शन लिया है. मैंने इस अकाउंट की शिकायत की थी क्योंकि इससे समाज के एक खास धर्म के लिए टारगेट किया जा रहा था.”

कोरोना को उल्टा मत होने दो- अमिताभ बच्चन

हालांकि टि्वटर इंडिया द्वारा रंगोली चंदेल का अकाउंट सस्पेंड करने के बाद रंगोली चंदेल के फैन्स उनकी आवाज बंद करने का नारा लेकर ट्विटर के इस फैसले के खिलाफ खड़े हो गए। एक यूजर ने कहा, “रंगोली चंदेल एक एसिड अटैक विक्टिम हैं और उनकी आवाज को दबाया जा रहा है”। वहीं इस ट्वीट का जवाब देते हुए फराह खान अली ने लिखा, “ये बात बहुत शर्मिंदगी की है कि एक एसिड अटैक सर्वाइवर में इतनी नफरत भरी हुई है. वो हादसा हुए सालों बीत गए हैं और रंगोली अब ठीक हो गई है. लेकिन मुझे ये देखकर आश्चर्य है कि वे कितनी नफरत के साथ बात करती हैं.”

क्या बादशाह ने चोरी किया है गाना ‘गेंदा फूल’ ?

गौरतलब है कि, देश में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच रंगोली ने ट्वीट कर कहा था, “जमात में शामिल हुए एक व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हो गई। जब पुलिस और डॉक्टर उसके परिवार को चेक करने गए तो उन पर हमला हुआ और उन्हें मार दिया गया।”

इसके आगे रंगोली ने लिखा था, “मुस्लिमों और फेक सेक्युलर मीडिया को एक लाइन में खड़ा करके गोली मार देनी चाहिए”। वहीं आखिरी में उन्होंने कहा कि, “ऐसा करने पर इतिहास नाज़ी कहेगा, लेकिन किसे फर्क पड़ता है. जिंदगी फेक इमेज से ज्यादा जरूरी है”।

रंगोली ने ट्विटर को बताया अमेरिकन प्लेटफॉर्म

वहीं, इस सबके बाद रंगोली चंदेल ने ऑफिशल बयान देते हुए ट्विटर को एंटी इंडिया और भेदभाव करने वाला बताया है। उन्होंने कहा, “ट्विटर एक अमेरिकन प्लेटफॉर्म है जो भेदभाव करता है और एंटी इंडिया है. आप हिन्दू भगवान का मजाक उड़ा सकते है, प्रधानमंत्री और होम मिनिस्टर को आतंकवादी बोल सकते हैं, लेकिन हेल्थ वर्कर्स पर पथराव करने वालों के बारे में कुछ बोलो तो आपका अकाउंट सस्पेंड हो जाता है. मुझे अपनी सोच को ऐसे प्लेटफॉर्म पर बताने की जरूरत नहीं है और इसलिए मैं अपना अकाउंट दोबारा नहीं चलाऊंगी. मैं अपनी बहन की प्रवक्ता हूं, इसलिए अब आप मेरे डायरेक्ट इंटरव्यू का इंतजार करें. वो एक बड़ी स्टार है उसके पास लोगों से जुड़ने के और भी कई तरीके हैं. भेदभाव करने वाले प्लेटफॉर्म की जरूरत हमें नहीं है”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here