ICC

ICC ने T10 फ्रेंचाइजी के भारतीय ओनर दीपक अग्रवाल पर बैन लगाया है, अग्रवाल साल 2018 में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हुई टी10 लीग में एक फ्रेंचाइजी के मालिक थे

ICC (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) ने भारतीय व्यवसायी दीपक अग्रवाल पर बैन लगा दिया है। अग्रवाल साल 2018 में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हुई टी10 लीग में एक फ्रेंचाइजी के मालिक थे। उनके खिलाफ ये कदम एक भ्रष्टाचार रोधी जांच में बाधा डालने और इस आरोप को स्वीकारने के बाद लिया गया है।

बता दें, भ्रष्टाचार रोधी संहिता के उल्लघंन की बात स्वीकार करने के बाद अग्रवाल ने सहयोग का आग्रह किया था, जिसके बाद उनपर लगे दो साल के बैन में से छह महीने निलंबित सजा है।

आपको बता दें कि कुछ समय के लिए अग्रवाल टी10 टीम सिंधीज के मालिक थे, उन्हें संहिता के अंतर्गत 2018 चरण के दौरान हिस्सेदार होने के नाते आरोपित किया गया है। भ्रष्टाचार रोधी इकाई की पूरी रिपोर्ट के मुताबिक, अज्ञात ‘मिस्टर एक्स’ के साथ मिलकर अग्रवाल को सबूत मिटाने के लिए आरोपित किया गया है जिन्हें भी प्रतिभागी बताया गया है।

ICC के आदेश के मुताबिक, “अग्रवाल ने ‘मिस्टर एक्स’ को एक-दूसरे के बीच हई बातचीत के सारे संदेश ‘डिलीट’ करने को कहा और एसीयू की जांच में शामिल होने से पहले उन्होंने उसका नंबर भी ‘डिलीट’ कर दिया.” आचार संहिता के 2.4.7 अनुच्छेद के मुताबिक अग्रवाल को आरोपित किया गया है जो जारी जांच में किसी भी दस्तावेज को खत्म करने, अन्य सूचनाओं को छुपाने या इनसे छेड़छाड़ करने से जुड़ा है।

ICC (आईसीसी) के महाप्रबंधक (इंटीग्रीटी) एलेक्स मार्शल ने बताया, “सिर्फ एक नहीं, ऐसे कई उदाहरण हैं जहां दीपक द्वारा जांच में देरी करने और जांच को बाधित करने के सबूत मिलते हैं. उन्होंने हालांकि आईसीसी के भ्रष्टाचार रोधी नियमों के उल्लंघन की बात को कबूल किया और एसीयू को अन्य भागीदारों के संबंध में चल रही जांच में जरूरी मदद मुहैया करा रहे हैं. इस सहयोग का असर उनकी सजा में दिखा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here