Arvind Kejriwal

देश में जारी लॉक डाउन के बीच राजधानी में कई चीजों पर ढील दे दी गई है। तो चलिए बताते हैं किन चीजों को मिली है ढील।

कोरोना वायरस की मार झेल रही राजधानी दिल्ली को अब लॉक डाउन में थोड़ी राहत मिली है। दिल्ली सरकार ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा के बाद प्लंबर, बिजली कर्मियों, पशु चिकित्सकों पर से रोक हटा दी है। DDMA (दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण) ने अपने आदेश में लैब टेक्नीशियन वैज्ञानिकों हेल्थ वर्कर को अंतर राज्य यात्रा की अनुमति दी है।

वहीं आज से राजधानी में सभी डिस्पेनसरी, क्लिनिक, वेटनरी हॉस्पिटल, पैथॉलोजी, लैब और वैक्सीन-मेडिसिन की बिक्री और सप्लाई की इजाजत दे दी है। इसके अलावा वैज्ञानिक, नर्स, मेडिकल स्टाफ, लैब टेक्नीशियन के साथ ही हॉस्पिटल स्टाफ को अंतरराज्यीय परिवहन (हवाई यात्रा भी) की यात्रा दी गई है.

शिक्षा मंत्री ने बताया कब होंगे CBSE बोर्ड के एग्जाम, जल्दी करें

आपको बता दें, इनके अलावा इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर और वॉटर प्यूरिफायर के मैकेनिक को भी छूट मिली है। अपने आदेश में दिल्ली सरकार ने छात्रों के लिए इलेक्ट्रिक फैन और एजुकेशनल बुक स्टोर की दुकान को भी खोलने की परमिशन दे दी है। गृह मंत्रालय ने अपने आदेश में इन सभी को छूट दी गई है। इसे अब दिल्ली सरकार ने लागू कर दिया है।

गौरतलब है कि दिल्ली में एक दिन पहले 293 नए मामले सामने आए। जिसके बाद कुल मरीजों की संख्या 2918 पर पहुंच गई है। लेकिन चिंता का विषय ये है कि ये वायरस लगातार स्वास्थ्य कर्मियों को अपना निशाना बना रहा है। रोहिणी के आंबेडकर अस्पताल के 32 चिकित्सा कर्मी इस वायरस से संक्रमित है। जिनमें डॉक्टर और नर्स शामिल हैं। रोटरी कैंसर अस्पताल की एक नर्स और उनके दो बच्चे भी इस वायरस की चपेट में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here