Delhi University

लॉक डाउन का असर बच्चों की पढ़ाई पर भी पड़ रहा है ऐसे में डीयू बच्चों की परीक्षाएं ऑनलाइन माध्यम से कराने का विचार कर रहा है।

देशभर में फैले कोरोना वायरस के कारण लॉक डाउन जारी है। सारे काम ऑनलाइन हो रहे हैं। पढ़ाई भी ऑनलाइन कराई जा रही है। इस बीच DU (दिल्ली यूनिवर्सिटी) प्रैक्टिकल और थ्योरी परीक्षा के कार्यक्रम का आयोजन ऑनलाइन करवाने की तैयारी कर रहा है

लॉकडाउन: छात्रों के लिए जामिया की ऑनलाइन प्लेसमेंट सुविधा,…

नए नियमों के मुताबिक, सभी एसेसमेंट, प्रोजेक्ट्स, ओरल (मूट कोर्ट), अप्रेंटिसशिप, प्रैक्टिकल, वाइवा-वॉयस, इंटर्नशिप, फील्ड वर्क आदि को टर्म थ्योरी परीक्षा 2020 से पहले पूरा करना होगा। हालांकि अभी आशंका ये जताई जा रही है कि जून से परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।

  • ऐसे जमा होंगे असाइनमेंट

DU (दिल्ली यूनिवर्सिटी) ने इंटर्नल एसेसमेंट के तीन हिस्सों (ट्यूटोरियल टेस्ट और अटेंडेंस, क्लास टेस्ट) की जगह पर इंटर्नल असाइनमेंट को कंसीडर करने का निर्णय लिया गया है। इस सेमेस्टर के लिए इंटर्नल एसेसमेंट को पूरा करने के लिए आईटी टूल्स की सहायता ली जाएगी।

इसके बाद कॉलेज के शिक्षक अपने-अपने सब्जेक्ट के लिए स्टूडेंट्स को ईमेल से असाइनमेंट भेजेंगे और स्टूडेंट्स को सॉल्व किए हुए असाइनमेंट को पूरा करके ईमेल से ही दोबारा भेजना होगा।

इसी तरह, प्रैक्टिकल वाले सब्जेक्ट के लिए भी शिक्षक स्टूडेंट्स को लैब प्रयोगों पर आधारित असाइनमेंट ईमेल से भेजे जाएंगे और स्टूडेंट्स को इन्हें पूरा करके वापस ईमेल के जरिए ही भेजना होगा। बता दें, लॉकडाउन के दौरान छात्रों की उपस्थिति को पूरा माना जाएगा।

लॉकडाउन के दौरान इन कॉलेज-यूनिवर्सिटी के बदले नियम साथ…

दूसरी तरफ दिल्ली विश्वविद्यालय ने डीयू ने इंटर्नशिप के लिए छात्रों को ऑनलाइन इंटर्नशिप में शामिल होने की छूट दी है। ये स्टूडेंट्स चल रहे प्रोजेक्ट्स में इंटर्न के तौर पर शामिल होने का लाभ उठा सकते हैं।

आपको बता दें, प्रोफेशनल एवं टेक्निकल कोर्सेज के फाइनल या इंटरमीडिएट सेमेस्टर/ टर्म/ वर्ष के छात्रों के लिए प्रैक्टिकल, वाइवा-वॉइस, और ओरल (मूट कोर्ट) के पेपर्स का आयोजन ऑनलाइन स्काईप या अन्य मीटिंग ऐप्स के माध्यम से होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here