Money

EMI भरने वाले कर्ज़ धारको के लिए एक अच्छी खबर है। कहा जा रहा है आरबीआई मोरेटोरियम 3 महीने के लिए बढ़ा सकता है।

SBI ने अपनी रिसर्च रिपोर्ट में ये कहा है कि RBI (भारतीय रिजर्व बैंक) मोरेटोरियम 3 महीने के लिए बढ़ा सकता है। दरअसल, सरकार द्वारा लॉक डाउन की अवधि को मई के अंत तक बढ़ाने के फ़ैसला लेने के बाद अब RBI यह फैसला ले सकता है। वहीं अगर ऐसा होता है तो उन करजधकों लोन की ईएमआई का भुगतान 31 अगस्त तक नहीं चुकाने की सुविधा मिलेगी।

हालांकि यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि इस समय के बाद उन्हें ब्याज देना पड़ेगा। आरबीआई की 27 मार्च की अधिसूचना के अनुसार, कर्ज़धारक अभी मार्च, अप्रैल और मई EMI चुकाने से स्वेच्छा मुक्त है लेकिन उन्हें बाद में इस EMI को चुकाना होगा।

लॉकडाउन के बाद दी ग्राहकों को दी गईमोरेटोरियम की सुविधा

कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए लगाए गए लॉक डाउन के बाद रिजर्व बैंक ने करदाताओं को थोड़ी राहत देते हुए बैंकों को यह निर्देश दिया था की वह लोन की EMI आगे बढ़ाने की सुविधा यानी मोरेटोरियम करदाताओं के लिए प्रदान करें। जिसके बाद बैंकों ने EMI, 3 महीने के लिए आगे बढ़ाने की सुविधा शुरू की। वहीं अब देश में लॉक डाउन 4.0 के ऐलान के बाद ऐसा माना जा रहा है ये सुविधा और आगे बढ़ाई जा सकती है।

लॉकडाउन: अगर ATM कार्ड नहीं कर रहा काम तो ऐसे निकाले कैश

आपको बता दें, इस छूट के बाद ब्याज वसूले जाने का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में लंबित पड़ा है। याचिका में यह मांग की गई है की बैंकों को EMI पर ब्याज वसूलने से रोका जाए अगर कर्ज धारको द्वारा ब्याज वसूला जाता है तो इससे आम आदमी पर बोझ बढ़ेगा।

भारती एयरटेल घाटे में

इस साल टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल को मार्च में खत्म हुए वित्त वर्ष में 32,183.2 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। समीक्षाधीन वित्त वर्ष में कंपनी का राजस्व 87,539 करोड़ रुपये रह गया। हालांकि उससे बीते साल में कंपनी का राजस्व 80,780.2 करोड़ रुपये ही रहा था लेकिन बावजूद इसके उस अवधि में कंपनी ने 409.5 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था। वित्त वर्ष की आखिरी तिमाही यानी जनवरी-मार्च, 2020 में कंपनी को 5,237 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। कंपनी का कहना है कि नियामकीय देनदारियों की वजह से उसे यह नुकसान झेलना पड़ा है। बीते वर्ष समान तिमाही में उसे 107.2 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

संकटग्रस्त ग्राहकों के लिए केनरा बैंक की गोल्ड लोन सुविधा

बता दें, केनरा बैंक ने गोल्ड लोन कारोबार शुरू किया है। बैंक का कहना है कि वो कोरोना वायरस के संकट में फंसे लोगों को यह सुविधा देगा। जिसके तहत कस्टमर अपने स्वर्ण आभूषण गिरवी रखकर इस साल 30 जून तक 7.85 प्रतिशत सालाना की दर पर लोन का फायदा उठा सकता है। इस लोन का इस्तेमाल कृषि कार्यों, स्वास्थ्य जरूरतों या अन्य व्यक्तिगत खर्च के लिए किया जा सकता है। बता दें, इस लोन को वापस बैंक को चुकाने के लिए ग्राहकों के पास एक से तीन साल तक का समय होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here