Akshaya Tritiya

आज अक्षय तृतीया के अवसर पर हम आपको बताएंगे इस दिन से जुड़ी खास बातें, शुभ मुहूर्त और इस दिन किस चीज के बाद से मां लक्ष्मी होती है प्रसन्न।

अक्षय तृतीया के पर्व को हिंदू धर्म में बेहद पवित्र माना जाता है। इस पर्व का आयोजन वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को किया जाता है। इस साल अक्षय तृतीया का यह पर्व 26 अप्रैल, रविवार यानी आज मनाया जा रहा है। धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, इस दिन बिना पंचांग देखें कोई भी शुभ कार्य किया जा सकता है।

बता दें, अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु के छठे अवतार यानी भगवान परशुराम का जन्म हुआ था। यही कारण है कि अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु की उपासना के साथ ही परशुराम जी की पूजा करने का भी विधान है।

ऐसा माना जाता है गृहस्‍थ लोगों को अपने वैभव और धन में बढ़ोतरी के लिए अपनी कमाई का कुछ हिस्सा धार्मिक कार्यों के लिए दान जरूर करना चाहिए। ऐसा करने से उनकी संपत्ति और धन में कई गुना ज्यादा बढ़ोतरी होती है।

लेकिन क्या आप जानते हैं अपने धन और वैभव में बढ़ोतरी के लिए आपको किन चीजों का दान देना चाहिए। अगर नहीं, तो चलिए आपको बताते हैं किस खास चीजों का अक्षय तृतीया पर दान करना मां लक्ष्मी को प्रसन्न करना है।

अपनी इन आदतों से जानें, आपके कौन से ग्रह है अशुभ

इन चीजों का करें दान

  • ठंडी चीजें जैसे- पंखे, चावल, छाता, खरबूजा, चीनी, ककड़ी, सत्तू, कुल्हड़, जल से भरे घड़े का दान करना उत्तम होता है।
  • इस खास दिन अपने भाग्य को जगाने के लिए अगर आप कुछ खरीदारी करना चाहते हैं तो आपको इन चीजों की खरीदारी करनी चाहिए जैसे- मिट्टी का पात्र, रेशमी वस्त्र, सोना, चांदी, हल्दी, चावल, फूल का पौधा और शंख।

क्या है अक्षय तृतीया का शुभ मुहूर्त

  • तृतीया तिथि प्रारंभ: 11:50 बजे (25 अप्रैल 2020)
  • तृतीया तिथि समापन: 13:21 बजे (26 अप्रैल 2020)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here